तो हम कैसे प्यार करे !!!

आँख के आंसू बह न सके जब, तो हम कैसे प्यार करें। ग़म के तूफां सह न सके जब, तो हम कैसे प्यार करें।। इश्क़ नहीं है इतना आसां, की जब चाहा इश्क़ किया। दिल की अपने कह न सके जब, तो हम कैसे प्यार करे।। उनकी पाक़ रूहानी शीरत, सहज सरल सौंदर्य की मूरत। […]

Read more
Follow by Email
Facebook
Facebook
YouTube
YouTube
LinkedIn