नारी सशक्तिकरण के असली मायने ..

‪#‎दीपिकापादुकोण‬ द्वारा अपनी आवाज देते हुए नारी स्वातंत्र्य को प्रेरित करने हेतु बनाये गए वीडियो को कई बार देखने और सुनने के बाद अभिव्यक्ति की व्यग्रता ने बिना कुछ कहे आगे बढ़ने नहीं दिया, अतः आप सब से एक प्रश्न करने का मन कर रहा है की क्या ‪#‎mybody‬‪#‎mymind‬ , ‪#‎mychoice‬ का नारा सामाजिक जीवन में औचित्यपूर्ण है ? जहाँ […]

Read more
दिखावा…….

        सर्वप्रथम आप सभी को होली की ढेर सारी बधाइयाँ !!!! भारत ने पाकिस्तान को हॉकी में हराया अच्छा लगा ! इन सारी बातों के बीच न जाने क्यों मेरा मन अनायास ही पूर्व वर्ष में आई फिल्म चक दे इंडिया की तरफ जा रहा है !जी हाँ , जिस फिल्म की वजह से शाहरुख़ […]

Read more
विमर्श…

 समर शेष है, नहीं पाप का भागी केवल ब्याध ! जो तटस्थ हैं, समय लिखेगा उनका भी अपराध !!           अपने प्रिय कवि रामधारी सिंह “दिनकर”  की इन्हीं पंक्तियों से प्रेरणा लेते हुए मैंने तटस्थता का चोला अब उतर फेंका है,  और अपनी किसी सक्रिय भूमिका की तलाश में रत हूँ ! सच है आज हममें  […]

Read more
यथार्थ!!!

छीनता हो स्वत्व कोई, और तुम , त्याग तप से काम  लो यह पाप है , पुण्य है, विछिन्न कर देना उसे , बढ़ रहा तेरी तरफ जो हाथ है!!!!           दिनकर की इन्ही पंक्तियों से सीख  लेने  की आवश्यकता है  हमारी सरकार को ! ऐसा कैसे हो सकता है कि हम ऐसे  देश  से हाथ मिलाना चाहे जिसके हाथ हमारे […]

Read more
Follow by Email
Facebook
Facebook
YouTube
YouTube
LinkedIn